उत्तराखंड से आने वाले कुछ बेहतरीन खिलाड़ी | Uttarakhand Players

उत्तराखंड की खेल प्रतिभाएं देश दुनिया में प्रसिद्द है।उत्तराखंड  के कुछ खिलाडी दुनिया भर में प्रसिद्धि हासिल कर रहे है। उत्तराखंड में कुछ काम ज्ञात स्थानों से आने वाले कुछ खिलाड़ी दुनिया में युवाओ के लिए अच्छा रोले मॉडल है। इस लेख में हम उत्तराखंड से आने वाले कुछ प्रसिद्द …

Read more

Harela Festival 2022 | जानिए क्या है हरेला त्योहार और इसकी खासियत जो इसे बनाती है खास

harela festival

हरेला, जिसके नाम से ही पता चलता है कि कहीं न कहीं इसका संबंध हरियाली से ही है। देवभूमि उत्तराखंड राज्य के कुमाऊं क्षेत्र में प्रत्येक वर्ष बहुत ही हर्षोल्लास के साथ मनाया जाने वाला हरेला एक प्रमुख हिंदू त्यौहार है। ये त्यौहार सावन के महीने में पड़ने वाली कर्क …

Read more

Bedni Kund | जानिए उत्तराखंड में स्थित बेदनी कुंड और उसका पौराणिक महत्व

Bedni Kund बेदनी बुग्याल के पहाड़ पर स्थित घास के मैदानों का एक हिस्सा है, जो उत्तराखंड के चमोली जिले में 20 वर्ग किमी में फैला है। ये हिमनद झील या कुंड समुद्र तल से लगभग 11,004 (3,354 मीटर) फीट की आश्चर्यजनक ऊंचाई पर स्थित है। ये कुंड अली बुग्याल …

Read more

जानिए, उत्तराखंड के 13 जिलों के नाम व उनके विषय में महत्वपूर्ण जानकारियां

13 district uttarakhand

उत्तराखंड, जिसके नाम से स्पष्ट है, उत्तर + खंड, यानि उत्तर का भाग। भारत का उत्तरी क्षेत्र या भाग उत्तराखंड, देश की प्रमुख नदियों के समीप बसते तीर्थस्थलों का केंद्र है। नए राज्य के रुप में उत्तर प्रदेश के पुनर्गठन के फलस्वरुप (उत्तर प्रदेश पुनर्गठन अधिनियम, 2000) उत्तराखंड की स्थापना …

Read more

जानिए उत्तराखंड की डोडीताल झील के विषय में

dodital lake

डोडीताल, उत्तराखंड ( Dodital Uttarakhand ) की ताजे पानी की झील है, जो बेनेडिक्टरी पाइन्स के बीच स्थित है। उत्तरकाशी में समुद्र तल से लगभग 3,310 मीटर की आश्चर्यजनक ऊंचाई पर स्थित है। डोडीताल विभिन्न जलीय प्रजातियों, वनस्पतियों और जीवों का घर है। झील की परिधि 1.5 किमी है। डोडीताल, …

Read more

रामायण और महाभारत में कई जगह मिलता है उत्तराखंड का उल्लेख, जानिए

mahabharat uttarakhand

Uttarakhand is mentioned in many places in Ramayana and Mahabharata उत्तराखंड का उल्लेख सबसे प्राचीन ग्रंथ ऋग्वेद में मिलता है। ऋग्वेद में इसे देवभूमि या मनीषियों की भूमि कहा गया है। ऐतरेय ब्राह्मण में इसे उत्तरकुरु का निवास होने के कारण उत्तर-कुरू कहा गया है। महाभारत में भी गंगाद्वार अर्थात् …

Read more